CBI ने ली मनीष सिसोदिया के बैंक लॉकर की तलाशी, दिल्ली के डिप्टी CM के पास नही मिला कुछ भी, देखे पूरी खबर


कवरेज इंडिया न्यूज़ डेस्क दिल्ली

CBI searches Manish Sisodia Bank Locker: केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) के अधिकारियों ने मंगलवार को गाजियाबाद के वसुंधरा सेक्टर 4 स्थित पंजाब नेशनल बैंक ब्रांच में दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) के लॉकर की तलाशी ली. इस पर मनीष सिसोदिया ने दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान जानकारी दी और बताया कि तलाशी के दौरान मेरे न घर में कुछ मिला और ना लॉकर में कुछ मिला.

विधानसभा में संबोधन के दौरान मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि मेरे लॉकर से सीबीआई (CBI) को सिर्फ 70 हजार रुपये का सामान मिला. 14 घंटे तक सीबीआई मेरे घर पर रही, लेकिन उन्हें कुछ नहीं मिला. इस तरह मुझे क्लीन चिट मिल गई है. उन्होंने कहा कि मीडिया ने चलाया जा रहा है कि लॉकर से प्रॉपर्टी के कागज मिले. कौन से कागज मिले हैं वो बताएं. मीडिया के साथियों से अपील है कि सच के साथ रहिए.

कहां है सिसोदिया का बैंकर लॉकर

बता दें कि गाजियाबाद के वसुंधरा सेक्टर-4 की पंजाब नेशनल बैंक में मनीष सिसोदिया का लॉकर है और यहीं की ब्रांच में जाकर लॉकर की जांच सीबीआई ने की है. इससे पहले, सोमवार को सिसोदिया ने ट्वीट किया था कि ‘कल सीबीआई हमारा बैंक लॉकर देखने आ रही है. 19 अगस्त को मेरे घर पर 14 घंटे के छापे में कुछ नहीं मिला था. लॉकर में भी कुछ नहीं मिलेगा. सीबीआई का स्वागत है. जांच में मेरा और मेरे परिवार का पूरा सहयोग रहेगा.’ सिसोदिया का कहना है कि उन्हें एक झूठे मामले में आरोपी बनाया गया है, ताकि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को आगे बढ़ने से रोका जा सके, जो 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकल्प के तौर पर उभरे हैं.

सीबीआई की जांच में कुछ नहीं मिला: सिसोदिया

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से बैंक के अंदर दस्तावेजों पर हस्ताक्षर कराए गए है. इसके बाद वह बाहर आए. यहां मीडिया से बात करते हुए सिसोदिया ने बताया कि सीबीआई की जांच में कुछ नहीं मिला है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह सिर्फ उनके प्रेशर में किया जा रहा है. जिससे उन्हें 2 या 3 महीने तक जेल में डाला जा सके.

सीबीआई पर दबाव

सिसोदिया ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी ने सीबीआई भेज कर मेरे लॉकर की जांच कराई, मेरे घर की जांच कराई, यही इस बात का सबूत है कि मैं और मेरा परिवार पूरी तरह से पाक साफ है. कहीं एक पैसे का सवाल नहीं है. मुझे सच्चाई पर भरोसा है, ईश्वर पर भरोसा है. सीबीआई के सभी ऑफिसर ने बहुत अच्छे से व्यवहार किया हमने भी पूरा कॉर्पोरेट किया. सीबीआई के ऊपर दबाव है. उन पर दबाव है कि किसी भी तरह से मनीष सिसोदियो को दो तीन महीने के लिए जेल में डालो. 



एक टिप्पणी भेजें

और नया पुराने