मकर संक्रांति पर माघ मेले में दिव्य होगी व्यवस्था, नगर विकास मंत्री ने लिया जायजा - COVERAGE INDIA

Breaking

Sunday, January 12

मकर संक्रांति पर माघ मेले में दिव्य होगी व्यवस्था, नगर विकास मंत्री ने लिया जायजा


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क प्रयागराज। 
उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री ने आज माघ मेला क्षेत्र का निरीक्षण करते हुए मकर संक्रांति स्नान के पूर्व तैयारियों का जायजा लिया। साधु-संतों एवं कल्पवासियों को दी जाने वाली सुविधाओं में कोई कमी न हो, इसकी व्यवस्था की गई है। मेला क्षेत्र में शौचालयों की पर्याप्त संख्या एवं उनमें साफ-सफाई की व्यवस्था पर मंत्री ने संतोष व्यक्त किया।

आपको बता दें कि सूबे के नगर विकास, शहरी समग्र विकास, नगरीय रोजगार एवं गरीबी उन्मूलन मंत्री आशुतोष टण्डन ‘गोपाल जी’ ने प्रमुख सचिव नगर विकास मनोज कुमार सिंह के साथ माघ मेला क्षेत्र का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान शहर उत्तरी विधायक हर्षवर्धन वाजपेयी, मण्डलायुक्त आशीष कुमार गोयल, महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी, जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी, प्रयागराज विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष टीके शिबू, नगर आयुक्त रवि रंजन, मेलाधिकारी रजनीश मिश्र सहित कई अधिकारीगण मौजूद रहे।

योगी के मंत्री ने संगम नोज पर बनाए गए घाटों का निरीक्षण करते हुए मां गंगा के पवित्र जल से आचमन भी किया। उन्होंने सेक्टर-3 के खाक चैक पर रामानंद ‘ब’ मार्ग पर खाली पड़ी जमीन के बारे में जिलाधिकारी से जानकारी ली। जिलाधिकारी ने बताया कि जमीन में कुछ दलदल है, जिसके कारण इस जमीन पर घाट का निर्माण नहीं किया जा सका है। जमीन के सूखते ही घाट का निर्माण कराया जायेगा।

संगम लोअर मार्ग होते हुए मंत्री सेक्टर-5 पहुंचे, जहां पर उन्होंने दण्डी स्वामी के आश्रम में साधु-संतों का कुशलक्षेम पूछा तथा उनसे मेला क्षेत्र में प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही सुविधाओं की जानकारी ली। इसी के साथ आश्रम में उपलब्ध कराई गई सुविधाओं तथा शौचालय, पानी आदि का निरीक्षण भी किया तथा अधिकारियों को निर्देशित किया कि मेला क्षेत्र में मूलभूत आवश्यकताओं की कमी न होने दी जाए। गंगोली शिवाला मार्ग का निरीक्षण करते हुए मार्ग में गंदगी मिलने पर अधिकारियों को फटकार लगाते हुए मार्ग में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहां कि कुम्भ की भांति ही हमें इस बार भी मेले में साफ-सफाई और स्वच्छता का विशेष ध्यान रखना है। स्वच्छता के कार्य में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

Our Video

MAIN MENU