अमेरिका का इराक में लगातार दूसरे दिन हवाई हमला, 6 लोगों मौत - COVERAGE INDIA

Breaking

Saturday, January 4

अमेरिका का इराक में लगातार दूसरे दिन हवाई हमला, 6 लोगों मौत


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क। 
बगदाद। बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिका के हवाई हमले में शुक्रवार को ईरान के टॉप कमांडर कासिम सुलेमानी की मौत के बाद एक तरफ जहां अमेरिका-ईरान के बीच तनाव चरम पर हैं तो वहीं इसके दिन बाद शनिवार तड़के इराक में ईरान समर्थक बलों पर फिर हवाई हमला किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अमेरिका ने एक ताजा हवाई हमले में इराक के हशद अल शाबी अर्द्धसैन्य बल के एक कमांडर को निशाना बनाया। एक सरकारी टीवी चैनल ने बताया कि हमला इराक की राजधानी बगदाद के उत्तर में हुआ लेकिन उसने कमांडर का नाम नहीं बताया। एक पुलिस सूत्र ने बताया कि बमबारी में हशद के काफिले को निशाना बनाया गया और जिसमें कई लोग ”हताहत हुए। उन्होंने मरने वालों की सटीक संख्या नहीं बताई।

ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स के क्वाड फोर्स के कमांडर जनरल कासिम सोलेमानी और इराकी पैरामिलिट्री अबू मेहदी अल मुहान्दिस की बगदाद में अमेरिकी ड्रोन हमले में शुक्रवार को हुई मौत के कुछ घंटे बाद यह ताजा हमला किया गया है। इराक के सरकारी अधिकारियों ने कहा कि एयर स्ट्राइक ने दो कारों को निशाना बनाया, जिसमें ईरान समर्थित लड़ाके सवार थे। इराक के अधिकारियों के मुताबिक इस हमले में हशद-अल-साबी के 6 लड़ाके मारे गए। हमले में मारे गए लोगों की पहचान नहीं हो पायी है।

उधर, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने यह साफ कर दिया है कि वे युद्ध नहीं चाहते हैं। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कॉर्प्स के मेजर जनरल कासिम सुलेमानी को मारने के निर्णय पर स्पष्टीकरण देते हुये कहा है कि उनकी यह कार्रवाई युद्ध को रोकने के लिए थी न कि शुरूआत करने के लिये। डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, अमेरिका ने ईरान के सुलेमानी के खिलाफ शुक्रवार को कार्रवाई युद्ध खत्म करने के लिए की न कि युद्ध को शुरू करने के लिए। उन्होंने चेतवानी देते हुए कहा कि अमेरिका अपने नागरिकों की सुरक्षा के प्रति सतर्क है और यदि ईरान ने किसी भी नागरिक को नुकसान पहुंचाया तो जो भी कार्रवाई करनी पड़ी उसके लिए वह तैयार हैं।

Our Video

MAIN MENU