प्रतापगढ़ में ज्ञान के ‘गुमान’ में फंसे गुरूजी, DM ने किया निलंबित - COVERAGE INDIA

Breaking

Wednesday, November 27

प्रतापगढ़ में ज्ञान के ‘गुमान’ में फंसे गुरूजी, DM ने किया निलंबित


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क प्रतापगढ़। 
प्रतापगढ़ - उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में बुधवार को शिक्षा विभाग में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया। जब एक पूर्व माध्यमिक विद्यालय के हेड मास्टर अपने ज्ञान के ‘गुमान’ में जिलाधिकारी माकर्ण्डेय शाही के सामने फंस गये और उन्हें निलंबित होना पड़ा। हुआ यह कि बुधवार को जिलाधिकारी विकास खंड लक्ष्मणपुर क्षेत्र में भ्रमण पर निकले थे।

अचानक वह पूर्व माध्यमिक विद्यालय लक्ष्मणपुर का औचक निरीक्षण करने जा पहुंचे। जिलाधिकारी के पहुंचते ही स्कूल के हेड मास्टर जयप्रकाश ने जिलाधिकारी से अंग्रेजी में अभिवादन किया और कहा गुड आफ्टरनून। हेड मास्टर के इतना कहते ही जिलाधिकारी ने उसके ज्ञान का पैमाना नापना शुरू कर दिया। जिलाधिकारी ने हेड मास्टर जय प्रकाश से गुड आफ्टरनून की स्पेलिंग ब्लैक बोर्ड पर लिखने को कहा तो वह सही ढंग से नहीं लिख पाये। इसके बाद जिलाधिकारी ने हेड मास्टर जय प्रकाश से पंजाब और तमिलनाड़ राज्य की राजधानी का नाम पूछा तो वह उसका भी उत्तर नहीं दे सके।


पूर्व माध्यमिक विद्यालय लक्ष्मणपुर के निरीक्षण में विद्यालय के छात्रों से 77, 78 और 69 में कौन सी संख्या बड़ी है के सम्बन्ध में जानकारी ली तो छात्र सही उत्तर नही दे पाये जिस पर जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापक जय प्रकाश से जानकारी ली तो उनके द्वारा बताया गया कि गणित विषय मेरे द्वारा पढ़ाया नही जाता जिस पर जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापक से पंजाब की राजधानी के सम्बन्ध में जानकारी ली तो उनके द्वारा पंजाब की राजधानी चन्दौली बताया गया और तमिलनाडु की राजधानी पंजाब और नागालैण्ड की राजधानी कश्मीर बताया गया तथा विद्यालय में छात्रों की उपस्थिति पंजिका निरीक्षण गया तो पंजीकृत 106 छात्र/छात्राओं में से मौके पर 20 छात्र उपस्थित मिले जिस पर जिलाधिकारी ने प्रधानाध्यापक जय प्रकाश के विरूद्ध निलम्बन की कार्यवाही करने व अन्यत्र ब्लाक में स्थानान्तरित करने के निर्देश दिये गये। इसी प्रकार जिलाधिकारी ने सहायक अध्यापक रामदीन गुप्ता से 13 और 17 का पहाड़ा सुनाने के लिये कहा तो वह 13 का पहाड़ा सुना सके और 17 का पहाड़ा नही सुना सके जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी व्यक्त की और सहायक अध्यापक को निर्देशित किया कि अपनी शिक्षण पद्धति सुधार लाये नही तो आपके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही जायेगी।

Our Video

MAIN MENU