प्रयागराज। प्रिंसिपल के कमरे में छिपे टीचर को खिडकी दरवाजे तोड़कर उपद्रवियों ने बाहर निकाला और फिर बरसाये लाठी डंडे, देखें विडियो - COVERAGE INDIA

Breaking

Wednesday, November 6

प्रयागराज। प्रिंसिपल के कमरे में छिपे टीचर को खिडकी दरवाजे तोड़कर उपद्रवियों ने बाहर निकाला और फिर बरसाये लाठी डंडे, देखें विडियो


डा. भगवान प्रसाद उपाध्याय की रिपोर्ट।
इलाहाबाद / प्रयागराज । उत्तर प्रदेश के प्रयागराज जिले में मंगलवार को गुरू शिष्य परंपरा अराजकता की भेंट चढ़ गयी। जिले के सोरांव थाना क्षेत्र स्थित आदर्श जनता इंटर कालेज शास़्त्री नगर बलकरनपुर में टीचर से किसी बात पर नाराज छात्र अपने दर्जनों साथियों संग कालेज पहुंचा और कालेज में तोड़फोड़ शुरू कर दी। अपनी जान बचाने के लिये टीचर प्रींसिपल के कमरे में घुस गये और अंदर से दरवाजा व खिड़की बंद कर दी। लेकिन, खून सवार उपद्रवियों ने खिड़की दरवाजे तोड़कर टीचर को बाहर निकाला और उस पर बेरहमी से तब तक लाठी डंडे बरसाते रहे, जब तक कि वह अचेत होकर जमीन पर लुढ़क नहीं गये। इस दौरान स्कूल के दूसरे टीचर व प्रींसिपल किसी तरह छात्रों को कानून हाथ में न लेने और समझाने का प्रयास करते रहे, लेकिन अपनी मनमानी करने तक उपद्रवी वहां जुटे रहे। आनन फानन में स्कूल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी तो मौके पर सोरांव थाने की फोर्स पहुंची। पुलिस ने उपद्रव करने वाले कुछ लोगों को हिरासत में लिया है, जबकि घायल टीचर को इलाज के लिये अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

क्या है मामला 
पुलिसक के अनुसार कालेज में जांच करने के लिये कुछ लोग आये हुये थे, जो बच्चों का स्वास्थ्य जांच कर रहे थे। इसी दौरान एक स्थानीय छात्र का वजन आदि क्लास में कराया गया और छात्र जब बाहर जाने लगा तो उसे वापस बुलाकर उनका नाम आदि दर्ज किया गया। इसी दौरान स्कूल में तैनात शिक्षक शिव बाबू शुक्ल ने छात्र को बार बार क्लास से बाहर आ जाने पर फटकार लगाई और छात्र से बहस होने लगी। आरोप है कि छात्र दलित बिरदरी का था और टीचर ने उसके साथ सख्ती दिखाई और पिटाई कर दी, जिससे नाराज छात्र अपने गांव चला गया और अपने दर्जनों साथियों संग स्कूल पहुंच गया और टीचर को सबक सिखाने के लिये बवाल करने लगा। बवाल की भनक लगते ही टीचर, प्रिंसिपल के केबिन में घुस गये तो उपद्रवियों ने खिडकी दरवाजे तोडने शुरू कर दिये और जमकर बवाल के बाद जब खिडकी दरवाजा तोड़कर टीचर को बाहर निकाला गया तो उन पर लाठी डंडे की बरसात कर दी गयी।

मच गया हडकंप 
उपद्रव कर रहे लोगों को देखकर दूसरे टीचर भी सकते में आ गये और बीच बचाव के लिये लोगों को कानून हाथ में न लेने की अपील करते रहे। लेकिन, उपद्रवियों ने लाठी डंडा बरसाना तब ही बंद किया, जब वह अपनी मंशा में कामयाब हो गये। काफी देर तक चले इस पूरे घटनाक्रम के बाद कालेज में हडकंप मचा रहा। दहशत के बीच स्कूल में तैनात शिक्षक सकते रहे और पुलिस पहुंचने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली। पुलिस ने बवाल कर रहे कुछ युवकों को हिरासत में लिया है। मामले की जानकारी देते हुये थानाध्यक्ष सोरांव ने बताया कि तहरीर घायल टीचर की ओर से दी जा रही है, उसी आधार पर मुकदमा दर्ज किया जायेगा। टीचर को इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया है। घटना क्यों हुई, अभी उसका कारण स्पष्ट नहीं है, मुकदमा लिखे जाने के बाद जानकारी दी जायेगी।

विडियो

Our Video

MAIN MENU