नंबर प्‍लेट पर लिखा था ‘आई त लिखाई’, इंस्‍पेक्‍टर बोले- ‘लिखाई तब थाने से जाई’ - COVERAGE INDIA

Breaking

Monday, October 14

नंबर प्‍लेट पर लिखा था ‘आई त लिखाई’, इंस्‍पेक्‍टर बोले- ‘लिखाई तब थाने से जाई’


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क वाराणसी। 
वाराणसी। कभी तेज आवाज वाले हार्न, कभी जगमगाती हुई टेल और लेजर लाइटें तो कभी नंबर प्‍लेट पर तरह-तरह के स्‍लोगन। दोपहिया पर पूरी ऐंठन में फर्राटा भरते एक युवक को इंस्‍पेक्‍टर भेलूपुर ने सोमवार को तगड़ी सीख दी। नई बुलेट मोटरसाइकिल के नंबर प्‍लेट पर युवक ने लिखवाया था ‘आई त लिखाई’। इंस्‍पेक्‍टर ने गाड़ी पकड़ कर थाने भेजने का आदेश दिया और कहा कि ‘नंबर लिखाई, तब गाड़ी थाने से जाई’।

सोमवार को जनपद में बैंकों, वाहनों और संदिग्‍धों की चेकिंग अभियान के तहत इंस्‍पेक्‍टर भेलूपुर राजीव रंजन उपाध्‍याय अस्‍सी क्षेत्र में स्‍टेट बैंक की जांच करने पहुंचे। इस दौरान सभी चौराहों पर भी वाहनों की जांच चल रही थी। वाहनों की जांच के दौरान इंस्‍पेक्‍टर की नजर एक युवक पर पड़ी जिसने अपनी बुलेट बाइक के नंबर प्‍लेट पर नंबर की जगह लिखवा रखा था ‘आई त लिखाई’।

इंस्‍पेक्‍टर भेलूपुर ने युवक से इसकी वजह पूछी तो उसने पूरे जोश में बताया कि रजिस्‍ट्रेशन नंबर अभी तक नहीं मिला है, आएगा तो नंबर लिखवा दिया जाएगा। इंस्‍पेक्‍टर ने इसके बाद बाइक को थाने भेजने का आदेश दिया। थोड़ी ही देर में युवक के पैरोकारों के भी फोन आने लगे जो बाइक को छोड़ने का दबाव बना रहे थे। इंस्‍पेक्‍टर भेलूपुर ने इन्‍हें बताया‍ कि बाइक का रजिस्‍ट्रेशन नंबर लेकर आइए। गाड़ी पर नंबर चढ़ने के बाद ही इसे छोड़ा जाएगा।

दूसरी तरफ, इंस्‍पेक्‍टर भेलूपुर ने बताया कि सोमवार की सुबह से अस्‍सी, चेतमणि, सोनारपुरा, कमच्‍छा, रथयात्रा आदि क्षेत्रों में बैंकों की जांच की गई। इसके अलावा संदिग्‍धों की तलाश में सभी चौराहों पर फोर्स ने वाहनों की जांच भी की। त्‍योहारों के मद्देनजर क्षेत्र में अतिरिक्‍त सतर्कता बरती जा रही है !

Our Video

MAIN MENU