बदल गया है यूपी-100, उत्तर प्रदेश में एमरजेंसी के लिए अब डायल करना होगा 112 - COVERAGE INDIA

Breaking

Monday, October 21

बदल गया है यूपी-100, उत्तर प्रदेश में एमरजेंसी के लिए अब डायल करना होगा 112


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क। 
लखनऊ। अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में आपातकाल सुविधा के लिए 911 नंबर डायल किया जाता है। इसी तर्ज पर अब उत्तर प्रदेश में भी आपात सेवा नंबर लॉन्च किया जा रहा है। इस नंबर से संबंधित रिपोर्ट शासन को आगे भेज दी गई है। कहा जा रहा है कि इसे अंतरराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस यानि कि एक अक्टूबर को लॉन्च करने किया जाएगा। उत्तर प्रदेश में अभी तक आपात सेवाओं के लिए 100 नंबर डायल किया जाता था, लेकिन अब उसकी जगह इस नंबर का उपयोग किया जाएगा। इस नंबर से पुलिस समेत बिजली, पानी, स्वास्थ्य जैसी आपात सुविधाएं मिलेंगी।

दिल्ली के बाद अब उत्तर प्रदेश पुलिस भी लोगों की मदद करने के लिए अपना हेल्पलाइन नंबर बदलने जा रही है। अभी लोग 100 नंबर पर फोन करके पुलिस से मदद मांगते हैं लेकिन अब मदद के लिए आपको 112 नंबर डायल करना होगा। नए नंबर का शुभारंभ प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।
विज्ञापन

बता दें कि 26 अक्तूबर से यूपी पुलिस का 100 नंबर बंद हो जाएगा। इसके बाद से पुलिस का इमरजेंसी कॉल नंबर 112 होगा। दुनिया के कई देशों की तर्ज पर यूपी पुलिस ने अपना इमरजेंसी कालिंग नंबर 112 रखा है।

वहीं दिल्लीवासियों को पुलिस की मदद के लिए अब 100 की जगह 112 नंबर डायल करना पड़ता है। इस नंबर पर डायल करने वाले जरूरतमंदों के लिए एम्बुलेंस, फायर और पुलिस जैसी तमाम आपातकालीन सुविधाएं उपलब्ध होंगी। आपातकालीन प्रतिक्रिया सहायता प्रणाली की शुरुआत के साथ ही सितंबर से नए नंबर को लागू कर दिया गया है।

अच्छी बात यह है कि लोगों की सुविधा के लिए नई प्रणाली के तहत 112 नंबर से डायल नंबर 100 (पुलिस), 101 (दमकल) और 108 (स्वास्थ्य) सेवाओं को एक साथ जोड़ दिया गया है। इससे पहले इमरजेंसी सेवाओं के लिए 20 से अधिक आपात नंबर थे। कई बार कुछ नंबरों के व्यस्त होने के कारण फोन मिल पाना संभव नहीं हो पाता था, लेकिन नई प्रणाली के लागू हो जाने के बाद से लोगों को इन दिक्कतों से छुटकारा मिल जाएगा।

वहीं बीते 20 सितंबर को चंडीगढ़ में गृह मंत्री अमित शाह ने देश की पहली एकीकृत आपातकालीन प्रतिक्रिया सहायता प्रणाली को लांच किया था। इसके लागू हो जाने के बाद लोगों को अलग-अलग परिस्थितियों के लिए अलग-अलग नंबर याद रखने की जरूरत नहीं होगी।

Our Video

MAIN MENU