यहाँ के घटित कारनामो से पूरी दुनिया क्या स्यंव ईश्वर भी चकरा जाते है - COVERAGE INDIA

Breaking

Monday, September 23

यहाँ के घटित कारनामो से पूरी दुनिया क्या स्यंव ईश्वर भी चकरा जाते है


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क। 
बैतूल। जिले में सड़क पर ट्रक चलाना एक ट्रक ड्रायवर को महंगा पड़ गया। इतना महंगा की बीते 13 दिन से वह एसडीओ पीडब्ल्यूडी के दफ्तर के बाहर अपनी पत्नी के साथ भूखे प्यासे बैठकर अपनी बेबसी पर आंसू बहा रहा है। मंत्री से लेकर संत्री तक सबसे गुहार लगाने के बाद भी इस दंपत्ति की अब तक कोई सुनवाई नही हुई है। सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने के बाद इस मामले में बवाल मच गया है। लापता एसडीओ ढूंढे से नही मिल रहे है। उन पर खंडवा के ड्राइवर जावेद का ड्राइविंग लाइसेंस,मोबाइल,रुपये छुड़ाने के आरोप है।

ट्रक ड्राइवर जावेद के मुताबिक ग्यारह तारीख को खंडवा से नमक लेकर बैैैतूल के सांईखेड़ा आया था । यहां करजगांव के पास उसका ट्रक फंस गया था अगले दिन वह जेसीबी की मदद से ट्रक निकलवा रहा था तभी मुलताई पीडब्लूडी के एसडीओ एन आर राठौर आये और गाली गलौज देकर उसके साथ मारपीट की और लाइसेंस, मोबाइल और गाड़ी शिल्लक छुड़ा लिए। साथ जेसीबी ड्राईवर का लाइसेंस भी छुड़ा लिया और दोनों को जीप में ज़बरदस्ती बैठा कर दिनभर घुमाते रहे। शाम होने पर मुलताई आफिस में लाकर छोड़ दिया।

जब ड्राइवर ने उनसे लाइसेंस, मोबाइल और पैसे मांगे तो वो धमकी देकर कहने लगे मेरे पास रिवाल्वर है गोली मार दूंगा। उसके बाद 12 तारीख से लेकर अब तक ना तो साहब ने लाइसेंस लौटाया और ना ही आफिस आ रहे हैं । आखिर थक हार कर जावेद ने अपने साथ हुई घटना की शिकायत मुलताई थाने ओर एसडीएम से की। लेकिन अभी तक कोई भी उसकी मदद नही कर पाया । शिकायत देने के बाद किसी तरह की कार्यवाही नही होने पर जावेद ने बीते शनिवार को वह पीएचई मंत्री सुखदेव पाँसे से इस मामले की शिकायत की मंत्री जी ने अपने निजसचिव को आफिस भी भेजा लेकिन एसडीओ श्री राठौर वहां नही मिले और न ही फोन उठाने की जहमत की।

इधर ट्रक ड्राइवर जावेद का 4 दिनों तक कोई सुराग नही मिला तो उसकी पत्नी उसे ढूढ़ते हुए मुलताई पहुच गई, अब उसकी पत्नी बीते आठ दिनों से अपने बच्चों को छोड़कर पति के साथ पीडब्ल्यूडी के दफ्तर में धरना दे रह रही है। मुलताई अनुभाग के एसडीओ एनआर राठौर से कर्मचारी भी परेशान है । भय भीत कर्मचारी बतातें है कि साहब कब किस का खाने का डब्बा जब्त कर लेंगे, कब किसका मोबाइल छुड़ा लेंगे कोई नही जानता। अब जानकारी में आने के बाद विभाग ने उनकी खोज शुरू की है।

Our Video

MAIN MENU