राहुल इस्तीफा देते हैं तो वह भाजपा के जाल में फंस जाएंगे - COVERAGE INDIA

Breaking

Sunday, May 26

राहुल इस्तीफा देते हैं तो वह भाजपा के जाल में फंस जाएंगे


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क।
नई दिल्ली ,लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा और पीएम मोदी को मिले प्रचंड बहुमत को लेकर और दुशरी तरफ पूरी तरह विपक्ष का सफाया हो गया है। करारी हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी काफी नाराज चल रहे है और वो अपने पद से इस्तीफा देना चाहते है ऐसी खबरे मिल रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि राहुल गांधी की जगह फिलहाल पार्टी में कोई नहीं ले सकता है और अगर वह इस्तीफा देते हैं तो पार्टी कार्यकर्ता आत्महत्या कर लेंगे। प्रियंका समेत कांग्रेस के दिग्गज नेता राहुल गांधी को समजाने में जुटे है। आज प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज इसको लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा की, अगर राहुल गांधी इस्तीफा देते है तो वह भाजपा के जाल में फस जायेंगे। सूत्रों का कहना है कि राहुल को इस्तीफा देने से रोकने की पूरी कोशिश प्रियंका गांधी ने भी की। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ए के एंटनी, अहमद पटेल और चिदंबरम के साथ प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी राहुल को रोकने की कोशिश की। प्रियंका ने कहा कि अगर राहुल इस्तीफा देते हैं तो वह बीजेपी के जाल में फंस जाएंगे। हालांकि, कांग्रेस कार्यसमिति ने राहुल के इस्तीफे को अस्वीकार कर दिया और उन्हें बतौर अध्यक्ष पार्टी के लिए कोई भी फैसला लेने की छूट देने की बात कही।

कार्यसमिति में राहुल गांधी के इस्तीफा देने की चर्चा पहले से ही थी। ज्यादातर विश्लेषक और पार्टी के जानकार भी मानकर चल रहे थे कि राहुल का इस्तीफा नामंजूर कर दिया जाएगा। हालांकि, सबसे चौंकानेवाली बात यह रही कि राहुल अपने इस्तीफे की पेशकश पर अड़े रहे और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के समझाने के बावजूद वह अपने फैसले से डिगे नहीं। दिलचस्प बात है कि राहुल के इस्तीफे पर एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने कहा कि उनकी जगह कोई और नहीं ले सकता। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, हम ही क्यों?’ हम से राहुल का मतलब गांधी परिवार से था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष कोई भी कांग्रेस कार्यकर्ता बन सकता है। बाद में गुलाम नबी आजाद और ए के एंटनी ने मीडिया से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष का इस्तीफा सर्वसम्मति से अस्वीकार कर दिया गया। 

एक वरिष्ठ कांग्रेसी ने राहुल गांधी से कहा कि बीजेपी और आरएसएस भी यही चाहती है कि राहुल गांधी इस्तीफा दें। कांग्रेस के वरिष्ठ पदाधिकारी ने राहुल गांधी से यह भी कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता हार के लिए नेतृत्व को जिम्मेदार नहीं ठहरा रहे हैं। हार की वजह चुनाव प्रचार के दौरान बनी परिस्थितियां हैं। राहुल का इस्तीफा कांग्रेस कार्यसमिति बैठक में नामंजूर कर दिया गया, लेकिन कुछ कांग्रेस नेताओं का मानना है कि जनता के बीच में यह पूर्वनियोजित होने का संदेश भी जा सकता है और ऐसा भी हो सकता है कि जनता इसे बहुत भरोसे से नहीं देखे।

Our Video

MAIN MENU