लोकसभा चुनाव में पेड न्यूज में गिरावट, सोशल मीडिया के दुरुपयोग के 900 मामले - COVERAGE INDIA

Breaking

Monday, May 20

लोकसभा चुनाव में पेड न्यूज में गिरावट, सोशल मीडिया के दुरुपयोग के 900 मामले


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क। 
नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने बताया कि लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान 647 पेड न्यूज के मामले पाए गए, जबकि विभिन्न सोशल मीडिया मंचों से 909 पोस्ट हटाए गए। सात चरणों में हुए लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण का मतदान रविवार को संपन्न हुआ और चुनाव के नतीजे 23 मई को आएंगे।

चुनाव आयोग के अनुसार, पेड न्यूज के कुल मामलों में से 57 मामले सातवें चरण के मतदान के दौरान पाए गए, जबकि छठे चरण में एक, पांचवें चरण में आठ, चौथे चरण में 136, तीसरे चरण में 52, दूसरे चरण में 51 और सबसे ज्यादा 342 मामले पहले चरण में पाए गए। आयोग ने बताया कि लोकसभा चुनाव 2014 के दौरान पेड न्यूज के 1,297 मामले पाए गए थे, जो सबसे ज्यादा खराब स्थिति थी।

सातवें और आखिरी चरण का मतदान रविवार को समाप्त होने के बाद चुनाव आयोग द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक निर्वाचन नियमों का उल्लंघन करने वाली सबसे ज्यादा, 650 पोस्ट फेसबुक से हटायी गयी। आयोग को मिली शिकायतों के आधार पर फेसबुक इंडिया ने 482 राजनीतिक किस्म की ऐसी पोस्ट हटायी जिन्हें मतदान से 48 घंटे पहले के प्रचार निषेध अवधि (साइलेंस पीरियड) में चस्पा किया गया था। इसके अलावा आयोग के निर्देश पर फेसबुक से 73 राजनीतिक विज्ञापन और मतदाताओं को भ्रमित करने वाली 43 पोस्ट को भी हटाया गया। इनमें 11 एक्जिट पोल से जुड़ी पोस्ट भी शामिल हैं।

चुनाव आयोग में सोशल मीडिया निगरानी तंत्र के प्रभारी धीरेन्द्र ओझा ने बताया कि निर्वाचन नियमों का उल्लंघन करने वाली 220 पोस्ट ट्विटर से, 31 पोस्ट शेयर चेट से, पांच गूगल से और तीन व्हाट्सएप से पोस्ट हटायी गयीं।

पेड न्यूज के मामलों में गिरावट
उन्होंने बताया कि पेड न्यूज के मामलों में इस चुनाव में काफी गिरावट दर्ज की गयी। उन्होंने बताया कि पिछले सात चरण के दौरान पेड न्यूज की कुल 703 शिकायतें मिली इनमें से 647 शिकायतें सही पायी गयीं। पिछले चुनाव (2014) में पेड न्यूज के मामलों की संख्या 1297 थी।

Our Video

MAIN MENU