भाजपा की महबूबा बनी पाकिस्तान प्रवक्ता..! सरकार क्यों बनी मौनीबाबा…? - COVERAGE INDIA

Breaking

Saturday, April 27

भाजपा की महबूबा बनी पाकिस्तान प्रवक्ता..! सरकार क्यों बनी मौनीबाबा…?


कवरेज इण्डिया न्यूज़ डेस्क। 
कुछ समय पहलें हसीन वादियों से भरे राज्य जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में भाजपा और पीडीपी की मिलीजुली सरकार थी। पीडीपी की महबूबा मुफ़्ती मुख्यमंत्री और भाजपा को डेप्युटी मुख्यमंत्री का पद मिला था। गठबंधन में कही ऐसी दरार पड़ी की महबूबा और भाजपा अलग हो गये। एक दूसरें में कहासुनी फिर मौन फिर जब परमाणु बम की बात निकली तो भाजपा की महबूबा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीजी रोज सुबह होते ही पाकिस्तान के नाम पर अपने विरोधियों को पानी पी पी कर कोस रहे है उस पाकिस्तान की प्रवक्ता बनकर ऐसा कहा की पाकिस्तान के पास जो परमाणु बम्ब है वह क्या ईद के लिए रखे है क्या…?

महबूबा ने भाजपा के उस नेताजी को जवाब दिया जिसके साथ उन्होंने सरकार बनाई थी। प्रधानमंत्रीजी ने एक चुनावी जन सभा में पाकिस्तान को ललकारते हुए कहा की क्या भारत ने अपने परमाणु बम्ब दिवाली पर फोड़ने के लिए रखे है क्या..? मोदीजी ने पाकिस्तान को खुल्ली चेतावनी दी की यदि फिर कुछ ऐसीवैसी हरकत की तो भारत परमाणु बम्ब का इस्तेमाल कर सकता है। हरत के प्रधानमंत्रीजी को जवाब इस्लामाबाद से मिलना चाहियें। लेकिन जवाब आया श्रीनगर से। जवाब दिया भाजपा की महबूबा ने पाकिस्तान की प्रवक्ता बनकर। ऐसा कभी न देखा न सुना। लेकिन महबूबा की जुबाँ पाकिस्तानी पुरे भारत ने सुनी। भाजपा ने भी सुनी। लेकिन किसी भाजपा के नेतागण ने ये नहीं कहा की महबूबा को बम्ब के साथ बांधकर बालाकोट में फेंक देना चाहिए…!
पीडीपी की छबि पाकिस्तान परस्ती होने की चर्चा थी। इसका कोई सार्वजनिक सबूत नहीं मिल रहा था देशवासियों को।

अब सबूत मिल गया की महबूबा रहती है भारत में, खाती है भारत का, राज करना है भारत के कश्मीर में और जब लाहोर में बारिश गिरे तो महबूबा फटाक से छाता खोल कर टिप टिप बरसा पानी का गीत न गाते हुए पाकिस्तान की खैरियत के लिए अल्लाताल्ला से दुवा करती होंगी….! पाकिस्तान को जुकाम हो तो महबूबा यहाँ अपने नाक पर विक्स वेपोरब घिसती होंगी। ऐसी मानसिकता रखनेवाले नेता के साथ भाजपा ने कई महीने सरकार चलाई। भाजपा जिस सेना के नाम पर वोट मांग रही है उस सेना के जवानो पर कश्मीर में युवाओं पत्थर फेंकते थे। सेना को अपमानित किया जाता था। इसी महबूबा ने मुख्यमंत्री रहते पत्थरबाज हजारो युवाओं पर दर्ज पुलिस केस वापिस लिए थे। भाजपा ने सत्ता के लिए उसका दामन धामा जो आतंकियो के प्रति नरम है।

उस महबूबा ने मानो वेही इमरान खान हो ऐसा जवाब दिया लेकिन भाजपा और भारत सरकार मौनीबाबा बन गई। क्यों…? हो सकता है की चुनाव के नतीजे के बाद सरकार बनाने में महबूबा की जरुरत पड़ी तो…!!
कश्मीर की एक पूर्व मुख्यमंत्री यदि इस तरह पाकिस्तान की वकालत करे तो उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं को क्या कहेंगे..? वे भी ऐसी ही जुबान बोलते होंगे। भाजपा और प्रधानमंत्रीजी लोह पुरुष सरदार पटेलजी को याद कर कहते है की यदि आज सरदार होते तो कश्मीर की समस्या नहीं होती। मोदीजी, सरदारजी रहने दीजिये।

यदि आपने भी नेहरु की तरह समस्या से किनारा कर लिया तो कश्मीर में अलग झंडा ही लहराता रहेंगा। महबूबा के खिलाफ देशद्रोह की धरा लगाकर उसे जेल में डाला जाय। जो खुल्लेआम पाकिस्तान की प्रवक्ता बन भारत की धरती पर खड़ी होकर भारत को पाकिस्तान के परमाणु बम्ब से धमकाने का घिनौना काम और हरकत कर रही हो उसके खिलाफ एक नहीं कई केस बनते है। यह महबूबा पाकिस्तान का खिलौना है। यदि उसे उसकी जगह नहीं बताई गई तो लोह पुरुष की आत्मा को कितना कष्ट पहुंचेगा। है न….? लोह पुरुष सोचेंगे जैसा नेहरु वैसा..!!

Our Video

MAIN MENU